डीएम ने धन होने के बावजूद निर्माण कार्य शुरू न होने पर मुख्य अधिकारी का वेतन रोका

डीएम ने धन होने के बावजूद निर्माण कार्य शुरू न होने पर मुख्य अधिकारी का वेतन रोका

– 50 लाख से अधिक धनराशि की परियोजनाओं को समय से पूर्ण करने के निर्देश

सनशाइन समय बस्ती से मनीष मिश्रा की रिपोर्ट

बस्ती। 50 लाख से अधिक धनराशि की परियोजनाओं को समय से गुणवत्तापूर्ण पूर्ण कराने के लिए जिलाधिकारी अंद्रा वामसी ने सभी कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया है। कलेक्ट्रेटे सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होने कहा कि समय से उपभोग प्रमाण पत्र भेजकर शासन से धनराशि अवमुक्त करायें। समीक्षा में उन्होने पाया कि जिला पंचायत द्वारा मई माह में नाली खडंजा का कार्य शुरू करके सितम्बर तक पूरा किया जाना था परन्तु धन होने के बावजूद यह कार्य नवम्बर में शुरू किया गया है। इस स्थिति पर असंतोष व्यक्त करते हुए उन्होने अपर मुख्य अधिकारी का वेतन रोकने का निर्देश दिया है।
उन्होेने राजकीय महाविद्यालय एलिया, महादेवा का कार्य समय से पूरा करने के लिए राजकीय निर्माण निगम को तत्काल धनराशि अवमुक्त करने का विभाग को निर्देश दिया है। उन्होने आवास विकास परिषद को निर्देश दिया कि दिसम्बर में ड्रगवेयर हाउस का निर्माण पूर्ण कराये। उन्होने बस्ती तथा रूधौली में निर्माणाधीन आईटीआई को जनवरी 2024 तक पूरा करने का निर्देश दिया है।
उन्होेने कहा कि पूर्ण परियोजनाओं को विभाग को हैण्डओवर करने की कार्यवाही में तेजी लायी जाय। उन्होने कहा कि 95 प्रतिशत निर्माण कार्य पूर्ण होते ही हैण्डओवर की प्रक्रिया शुरू कर दिया जाय। हैण्डओवर के पूर्व टास्क फोर्स द्वारा निरीक्षण अवश्य कराया जाय। जिन कार्यो की टेण्डर प्रक्रिया पूर्ण हो गयी है, उनका निर्माण कार्य तत्काल शुरू कराया जाय। बैठक का संचालन अर्थ एवं संख्याधिकारी ईशा शर्मा ने किया। बैठक में सीडीओ जयदेव सीएस, सीएमओ डा. रमा शंकर दुबे, अधिशासी अभियन्ता पीडब्ल्यूडी केशवलाल, राकेश कुमार गौतम, बीएसए अनूप तिवारी, कृषि अधिकारी डा. राजमंगल चौधरी, विभागीय अधिकारी तथा कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *