स्वर्ण जयन्ती व्यापारी सम्मेलन में उठे जमीनी मुद्दे

स्वर्ण जयन्ती व्यापारी सम्मेलन में उठे जमीनी मुद्दे

स्वच्छता से व्यापार करें, संगठन चट्टान की तरह साथ में खड़ा रहेगा – मुकुन्द मिश्र

सनशाइन समय बस्ती से मनीष मिश्र की रिपोर्ट

बस्ती। उ.प्र. उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष एवं राष्ट्रीय महामंत्री मुकुन्द मिश्रा ने शनिवार को बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल स्वर्ण जयन्ती व्यापारी सम्मेलन को सिद्धि विनायक मैरेज हाल में मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित करते हुये कहा कहा कि इमानदारी और स्वच्छता से व्यापार करें, संगठन उनके साथ चट्टान की तरह खड़ा रहेगा। कहा संगठन का 50 वर्षों के संघर्ष का इतिहास रहा है, व्यापारियों का स्वाभिमान जब जब आड़े आया संगठन व्यापारियों के साथ रहा और सामने वाले को झुकना पड़ा।
मुकुन्द मिश्रा ने भामाशाह की जयंती को व्यापारी दिवस के रूप में मनाये जाने की घोषणा करने तथा व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन किये जाने पर योगी सरकार के प्रति आभार जताया। केन्द्र सरकार से मांग किया कि राष्ट्रीय स्तर पर भी इसकी घोषणा की जानी चाहिये। बस्ती के व्यापारियों ने प्रमुखता से मांग उठाया कि शिक्षक और स्नातक एमएलसी की तरह व्यापारियों का भी अपना एमएलसी होना चाहिये, जिसके समक्ष समाज अपनी समस्यायें रख सके और प्रतिनिधि के जरिये उनकी समस्यायें सदन के पटल तक पहुंचे। मुकुन्द मिश्रा ने इसका समर्थन किया और शासन तक इस मांग को ले जाने का व्यापारियों को भरोसा दिलाया।
मौजूदा सरकार द्वारा लागू किये विभिन्न करों पर उन्होने अपना विचार व्यक्त करते हुये कि व्यापारियों पर टैक्स इस तरह लागू होना चाहिये कि वी लालफीताशाही का शिकार न हो। उन्होने जीएसटी, व्यापारियों के तरह तरह से उत्पीड़न, लाइसेंसों की वैधता आजीवन किये जाने, नगरपालिकाओं द्वारा विधि विरूद्ध लिये जा रहे टैक्स तथा व्यापारियों के सम्मान और स्वाभिमान से जुड़े मुद्दों पर लम्बा सम्बोधन किया। सभी को धन्यवद देते हुये अंत में पत्रकारों के प्रश्नों का जवाब देते हुये उन्होने कहा जीएसटी के सरलीकरण को लेकर शासन के साथ बैठकें हो रही हैं। आने वाले दिनों में जो असहजता है उससे मुक्ति मिलेगी।
मुकुन्द मिश्रा ने कहा 22 जनवरी का दिन भारत के इतिहास में अति महत्वपूर्ण है। लम्बे संघर्षों के बाद भव्य राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा हो रही है। यह अवसर हर भारतवासी को गौरवान्वित करता है। उन्होने व्यारियों का आवाह्न किया कि 22 जनवरी को अपने प्रतिष्ठान पर दीपक जलायें और बाजारों में एलईडी लगाकर पर्व को भव्यता प्रदान करें। कहा प्रायः व्यापारिक प्रतिष्ठानों में आग लग जाती है। अच्छा खासा व्यापार अचानक चौपट हो जाता है और व्यापारी टूट जाता है। अब ऐसी घटनायें होंगी तो जिन व्यापारियों के पास संगठन का आई कार्ड होगा उन्हे जिलाध्यक्षों की सिफारिश पर 15 से 25 हजार रूपये की तात्कालिक आर्थिक सहायता दी जायेगी। इसी क्रम में उन्होने पत्रकारों से बातचीत में व्यापारी एकजुटता पर जोर दिया।
बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल स्वर्ण जयन्ती व्यापारी सम्मेलन में संघ जिलाध्यक्ष आनन्द राजपाल, जिला महामंत्री सूर्य कुमार शुक्ल, मण्डल उपाध्यक्ष नोमान अहमद के साथ ही अनेक पदाधिकारियों और व्यापारियोें ने जमीनी समस्याओं को प्रमुखता से उठाया। आवाहन किया कि व्यापारी एकजुट रहे तो उनकी हर समस्या का समाधान होगा। सम्मेलन में अनेक पदाधिकारियों को उनके योगदान के लिये सम्मानित किया गया।
स्वर्ण जयन्ती व्यापारी सम्मेलन में मुख्य रूप से प्रभात सोनी, धर्मेन्द्र चौरसिया, अदालत प्रसाद, प्रमोद गुप्ता, सुनील कुमार गुप्ता, डेजी बाबू, अजय श्रीवास्तव, राघवेन्द्र कश्यप, मनोज अग्रवाल, ओम प्रकाश आर्य, सूर्य नारायण गुप्ता, श्याम जी आर्य, सुनील कुमार, नीरज गुप्ता, सुरेश गुंटा, प्रद्युम्न शुक्ल, अनिल कुमार अग्रहरि, नवनीत मद्धेशिया, अरूण कुमार अग्रहरि, उमेश चन्द्र कसौधन, मुदित बहल, संजय कुमार जायसवाल, लालजी सिंह आदि ने प्रदेश अध्यक्ष का स्वागत करते हुये समस्याओं को प्रमुखता से उठाया।
कड़ाके की ठंड के बावजूद सम्मेलन में राजाराम तिवारी, आशुतोष पाण्डेय, गंगाराम चौधरी, अवधेश मिश्र, सियाराम वर्मा, पवन चौधरी, आत्मा प्रसाद पाठक, संदीप गोयल, संजय द्विवेदी, गौरव भारत, सोनू तमसीर, गौरव साहू, आलम, सतीश सिंघल, धु्रवचन्द्र चौधरी, कुन्दनलाल वर्मा, अजय चौधरी, जगदम्बा सिंह, वैजनाथ अग्रहरि, राजन गुप्ता, प्रभुप्रीत सिंह, राम कुमार सोनकर, राजेश सिंह, विष्णु सोनी, भूमिधर गुप्ता, पंकज मिश्र, लड्डन पटवा, राजेश अग्रहरि, मो. रसीद के साथ ही बडी संख्या में व्यापारी और पदाधिकारी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *