समाजवादियों ने बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर को किया नमन

समाजवादियों ने बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर को किया नमन

सनशाइन समय बस्ती से मनीष मिश्रा की रिपोर्ट

बस्ती। समाजवादी पार्टी कार्यालय पर बुधवार को पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओें ने संविधान निर्माता बाबा साहब डा.भीमराव अम्बेडकर के परिनिर्वाण दिवस याद किया। उनके चित्र पर माल्यार्पण के साथ सदर विधायक महेन्द्रनाथ यादव ने कहा कि डॉ. भीमराव आंबेडकर अर्थशास्त्री, न्यायविद, राजनीतिज्ञ, समाज सुधारक और राजनीतिक नेता थे। उन्होंने दलित जाति के लिए काफी काम किया। वे समाज से भेदभाव को खत्म करना चाहते थे। समाज में अछूतों को लेकर हो रहे भेदभाव के विरुद्ध अभियान चलाया था। उन्होंने हमेशा श्रमिकों, किसानों और महिलाओं के अधिकार के लिये संघर्ष किया। उनका योगदान सदैव याद किया जायेगा।
पूर्व विधायक राजमणि पाण्डेय, विधायक राजेन्द्र चौधरी, कविन्द्र चौधरी अतुल, विचारक चन्द्रभूषण मिश्र, राजू सिंह, चन्द्र प्रकाश चौधरी, धीरसेन निषाद, अंकुर वर्मा, मो. स्वाले, समीर चौधरी, मनोज कुमार गौतम आदि ने बाबा साहब ने भारत को सशक्त संविधान दिया। भारत का संविधान देश की आत्मा के रूप में निर्मित है। आज हम सबको बाबा साहब के विचारों उनके उद्देश्य के सपने को साकार करने की जिम्मेदारी बनती है। यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने ऐसा संविधान बनाया है। जिसमें प्रत्येक व्यक्ति के मौलिक अधिकारों कर्तव्य और विविधता में एकता हमेशा कायम रहने की इजाजत देता है। बाबा साहब का संविधान ने देशवासियों को प्रेम भाव से मिलजुल कर देश की एकता, अखंडता और संप्रभुता को बनाए रखने की सीख देता है। वे युगो तक याद किये जायेंगे।
बाबा साहब के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन् करने वालों में मुख्य रूप से अवधेश मौर्य, लालजीत चौधरी, रितिक कुमार, रमेश गौतम, राजदेव गौतम, विजय विक्रम आर्य, प्रेमा गौतम, चन्द्रावती, हरेश्याम विश्वकर्मा, अरविन्द सोनकर, गीता भारती, संजय गौतम, गुलाब सोनकर, रिन्टू यादव, तूफानी यादव, युनूस आलम, भोला पाण्डेय, बैजनाथ शर्मा, श्याम सुन्दर यादव, मुकेश यादव, बदरूदीन, अजय यादव, कैलाशनाथ शुक्ल, अरविन्द यादव, राजेन्द्र चौधरी, मो. उमर, प्रशान्त यादव, प्रमोद यादव, जुवेदा खातून, रजवन्त यादव, अजय दूबे, जर्सी यादव, राजेश पटेल, राहुल सोनकर, गिरीश चन्द्र के साथ ही सपा के अनेक कार्यकर्ता, पदाधिकारी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *