पुरानी पेंशन बहाली के लिये झोेंकी ताकत, संघर्ष की धार तेज करने का आवाहन

पुरानी पेंशन बहाली के लिये झोेंकी ताकत, संघर्ष की धार तेज करने का आवाहन

सनशाइन समय बस्ती से मनीष मिश्र की रिपोर्ट

बस्ती। सोमवार को उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष उदयशंकर शुक्ल की अध्यक्षता में रामनगर बी.आर.सी. पर पेंशन बहाली संयुक्त मंच ‘एन.जे.सी.ए. राष्ट्रीय नेतृत्व के आवाहन पर बैठक कर संघर्ष की रणनीति तय की गई। बैठक में संघ जिलाध्यक्ष उदयशंकर शुक्ल ने कहा कि आगामी 21 सितम्बर को पुरानी पेंशन बहाल किये जाने के एक सूत्रीय मांग को लेकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय पर धरना देकर एन.पी.एस. का पुतला फूंकने के साथ ही ज्ञापन भेजा जायेगा। कहा कि शिक्षकों, कर्मचारियों के समक्ष करो या मरो जैसे हालात है। पुरानी पेेंशन बहाल हो इसके लिये हर स्तर पर संघर्ष की धार को तेज करना होगा।
संघ के कार्यवाहक अध्यक्ष अखिलेश मिश्र, रामनगर ब्लाक अध्यक्ष इन्द्रसेन मिश्र, मजहर आलम, गुरूलाल, अब्दुल कयूम, पप्पू सक्सेना, परवेज अख्तर, राहुल उपाध्याय आदि ने कहा कि शिक्षक और कर्मचारियों के लिये पुरानी पेंशन बुढापे की लाठी है। कई राज्य सरकारोें ने इसे लागू भी कर दिया है किन्तु केन्द्र की सरकार इस दिशा में गंभीर नही है। वक्ताओं ने कहा कि जब तक पुरानी पेंशन बहाल नहीं हो जाती चरणबद्ध ढंग से आन्दोलन जारी रहेगा। पेंशन शिक्षकों, कर्मचारियोें का अधिकार है, इसे लेकर रहेंगे। कहा कि पुरानी पेंशन लागू करना ही होगा। इसके लिये शिक्षक और कर्मचारी हर स्तर के संघर्ष के लिये तैयार रहेें। यदि अभी न चेते तो बुढापे में चौतरफा संकट झेलना होगा।
यह जानकारी देते हुये संघ के जिला प्रवक्ता सूर्यप्रकाश शुक्ल ने बताया कि पुरानी पेंशन बहाली सहित अन्य मांगों को लेकर आयोजित बैठक में मुख्य रूप से ज्ञानेश्वर शुक्ल, मुकेश कुमार, सुरेन्द्रनाथ पाठक, पंकज कुमार, के साथ ही अनेक शिक्षक और संघ पदाधिकारी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *