मोदी की जनसभा में भीड़ ने तोड़ा रिकॉर्ड, सपा और कांग्रेस पर कसा तंज, बताया पाकिस्तान का हमदर्द

मोदी की जनसभा में भीड़ ने तोड़ा रिकॉर्ड, सपा और कांग्रेस पर कसा तंज, बताया पाकिस्तान का हमदर्द

– माफिया सपा के मेहमान होते थे, दंगाइयों को स्पेशल प्रोटोकॉल मिलता था – मोदी

– सपा के बड़े नेता कहते हैं राम मंदिर तो बेकार है वहाँ जाने वाले राम भक्त पाखंडी – मोदी

– कांग्रेस ने देश में आपातकाल लगाकर संविधान के खत्म करने की भरपूर कोशिश की थी – मोदी

सनशाइन समय बस्ती से मनीष मिश्र की रिपोर्ट

बस्ती। भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में बुधवार को बस्ती के हथियागढ़ पालीटेक्निक कालेज के परिसर में आयोजित जनसभा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया सम्बोधित। हेलीपैड पर स्वागत करने गए भाजपा पदाधिकारियों से लगभग 10 मिनट तक प्रधानमंत्री ने चुनाव का जायजा लिया। वहा से कार द्वारा कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे, मंचासीन नेताओ ने प्रधानमंत्री ने किया स्वागत किया।
मंच पर पहुंचते ही भोजपुरी में कहां सब भईया बहिनिन के राम राम।
भीड़ को देखकर मोदी ने कहा हमारी व्यवस्था छोटी पड़ गई और लोग मुझे आशीर्वाद देने बड़ी संख्या में आये है। पंडाल भर जाने के कारण लोग धूप में खड़े रहे जिसे देखकर प्रधानमंत्री ने लोगो से क्षमा मांगा और कहा मैं विकास के रूप में आपके आशीर्वाद को लौटाऊंगा।
मोदी ने कहा मैं पहले भी यहा आया हूँ पर ऐसा दृश्य देखने का सौभाग्य नही मिला था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सपा और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। कहा कि देश में पांच के चरण चुनाव हो चुके हैं। पूरा इंडी एलाइंस ऐसी निराशा की गर्त में डूबा हुआ है कि अब उनको यह भी याद नहीं रहता है कि 2 दिन पहले क्या बोले थे। आज क्या बोल रहे हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस देश में बहुत लोग हैं। जिनको अपने बेटे का जन्मदिन याद नहीं है। अपनी पत्नी से बात करते हैं, शादी की तारीख भूल जाते हैं। लेकिन इस देश के बच्चे बच्चे को पता है 22 जनवरी 2024। मैं जब 22 जनवरी बोलता हूं और देश बोल पड़ता है जय श्री राम। अयोध्या में उस ऐतिहासिक दिन मैंने कहा था राम से राष्ट्र, विरासत से विकास, अध्यात्म से आधुनिकता। आज देश इसी मंत्र पर आगे बढ़ रहा है। भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है। आज भारत का कद बढ़ा है। भारत का सम्मान बड़ा है। भारत अब वैश्विक मंचों पर बोलता है तो पूरी दुनिया बड़े ध्यान से सुनती है। भारत फैसला लेता है तो दुनिया तो दुनिया उसके साथ अपने कदम मिलाने की कोशिश करती है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि यह जो आतंक का पोषक देश हमें आंखें दिखाता था धमकियां देता था। आज उसकी हैसियत न घर का न घाट वाली हो गई है। अनाज भी उनको नसीब नहीं होता है। पाकिस्तान तो पस्त पड़ गया है। तंज कसते हुए आगे कहा कि उसके हमदर्द सपा कांग्रेस वाले अब भारत को डराने में जुटे हैं। उनको मालूम नहीं है कि 56 इंच क्या होता है। वह कहते हैं पाकिस्तान से डरो। फिर कहते हैं उसके पास एटम बम है। मोदी ने पूछा कि भारत को डरना चाहिए क्या? आगे बोले भारत में कांग्रेस की कमजोर सरकार नहीं है। भारत में मोदी की मजबूत सरकार है। अगर डरना है तो वह लोग डरें जो मानवता में विश्वास नहीं करते। जो आए दिन खून की नदियां बहाते हैं। भारत न किसी से डरता और न ही किसी को डराना चाहता है। लेकिन हमें डराने वालों को हम कभी भी बख्शेंगे नहीं। इसीलिए भारत आज घर में घुसकर मारता है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निशाने पर सपा कांग्रेस ही रहे। कहा कि दोनों शहजादे अब मिलकर अफवाह उड़ा रहे हैं कि यूपी की 79 सीट जीत जाएंगे। पहले सुना करता था कि लोग दिन में सपने देखते हैं, अब पता लगा दिन में सपना देखने का मतलब क्या होता है। 4 जून को यूपी की जनता इनको नींद से जगाने वाली है और तब यह हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ेंगे। इंडी गठबंधन की परिवार वादी पार्टियों ने तुष्टिकरण की सारी हदें पार कर दी है।
प्रधानमंत्री ने राम मंदिर का जिक्र करते हुए कहा कि देश 500 वर्षों से राम मंदिर की प्रतीक्षा कर रहा था। लेकिन यह इंडी गठबंधन वालों को राम मंदिर और राम से परेशानी है। सपा के बड़े नेता कहते हैं राम मंदिर तो बेकार है। सपा खुलेआम कहती है राम मंदिर जाने वाले राम भक्त पाखंडी हैं। इंडी गठबंधन के एक नेता ने कहा राम मंदिर अपवित्र है। यह लोग सनातन धर्म के विनाश की बात करते हैं। और इन सब की आका कांग्रेस पार्टी है। कांग्रेस के शहजादे तो राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला, जिसके कारण राम मंदिर बना है वह फैसला बदलना चाहते हैं। यह राम मंदिर पर बाबरी ताला लगाने का सपना देख रहे हैं। राम लला को फिर से टेंट में भेजना चाहते हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस तो अपनी पार्टी का संविधान नहीं मानती है। कहा कि कांग्रेस और सपा वालों को अचानक संविधान की याद आ गई है। इसी कांग्रेस ने देश में आपातकाल लगाकर संविधान के खत्म करने की भरपूर कोशिश की थी।यही कांग्रेस है जो खुद का और पार्टी का संविधान नहीं मानती। यह परिवार बिहार के एक अति पिछले समाज के एक व्यक्ति सीताराम केसरी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष थे। इनको पिछड़ों और दलितों से पता नहीं क्या नाराजगी है कि एक शाम को मैडम सोनिया जी की टोली कांग्रेस दफ्तर में घुस गई। और अति पिछड़े समाज के सीताराम केसरी को बाथरूम में बंद कर दिया। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष को बाथरूम में बंद कर दिया। फिर उनको फुटपाथ पर फेंक दिया और रातों-रात मैडम सोनिया जी को राष्ट्रीय अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठा दिया। वहीं, सपा जिसने हमेशा दलितों के आरक्षण का विरोध किया। अब संविधान की भावना के खिलाफ जाकर धर्म के आधार पर आरक्षण देने की बात कर रहे हैं। यह लोग दलितों पिछड़ों का आरक्षण छीन कर वोट जिहाद करने वालों को देना चाहते हैं। जहां कांग्रेस सरकार है वहां उन्होंने संविधान के पीठ में छुरा घोंपकर कानून बना दिया। कांग्रेस मुसलमानों का आरक्षण देने के लिए बाबा साहब आंबेडकर का संविधान बदलना चाहती है। सपा भी इस दलित पिछड़ा विरोधी षड्यंत्र में कांग्रेस के साथ खड़ी है।
पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार विकास भी विरासत भी, इस मंत्र को लेकर चल रही है। यह क्षेत्र तो वैसे भी अयोध्या के करीब है। सरकार जो राम सर्किट विकसित कर रही है, उसके अंदर महर्षि वशिष्ठ, श्रृंगी ऋषि के आश्रम पर विकास के कार्य हुए हैं। 84 को परिक्रमा यहीं मखौड़ा धाम से शुरू होती है। जिसका शिलान्यास हो चुका है। राम जानकी मार्ग का विकास हुआ है। सरयू से जलमार्ग बनाने का काम किया है। यह तो अभी केवल ट्रेलर है बहुत बड़े-बड़े काम होने हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सपा ने यूपी को केवल बदनामी दी है। बहन बेटियों का घर से निकलना मुश्किल था। लोग जमीन खरीदने से डरते थे। जमीन खरीदी तो कोई न कोई माफिया कब्जा करने आ जाता था। आपको याद है कैसे गुंडे माफिया सपा के मेहमान होते थे। दंगाइयों को स्पेशल प्रोटोकॉल मिलता था। आतंकवादी को जेल से छोड़ने का फरमान जारी होता था। बीजेपी को यूपी में बहुत समय पुराने गड्ढे मिले। इस गड्ढे को गढ़ को भरने के लिए योगी जी और उनकी पूरी सरकार को बहुत ताकत लगानी पड़ी है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पूरा एनडीए बस्ती में एक मंच पर है। क्या आपने कभी इंडी गठबंधन को इस तरह एक मंच पर देखा है। मोदी आगे बोले कि इन लोगों ने इस क्षेत्र को बर्बाद करने में कोई कसर बाकी नहीं रखी। गन्ना किसानों को भुगतान नहीं होता था। योगी जी ने बताया चीनी मिलों को कौड़ियों के दाम बेचा जाता था। सड़कों की हालात बदहाल थी। 2017 में वादा किया था यह हालत में बदलूंगा। आज यहां बंद चीनी मिलों को शुरू कर दिया गया है। मुण्डेरवा और पिपराइच में वह वादा पूरा हुआ। बस्ती, सिद्धार्थनगर और डुमरियागंज की कनेक्टिविटी लगातार काम हो रहा है। मनवर संगम ट्रेन यहां से चल रही है। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस हो या बस्ती पीलीभीत फोरलेन का हाईवे हो, बस्ती रिंग रोड हो इस क्षेत्र की तस्वीर बदलने वाली है। इससे बस्ती के चीनी उद्योग, संत कबीर नगर के पीतल से बने उत्पादों और महाराजगंज के फर्नीचर उद्योग को नई ताकत मिलेगी। युवाओं को रोजगार मिलेगा।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बस्ती से भाजपा उम्मीदवार व मौजूदा सांसद हरीश द्विवेदी, डुमरियागंज से भाजपा उम्मीदवार व मौजूदा सांसद जगदंबिका पाल और संतकबीरनगर से उम्मीदवार व सांसद प्रवीण निषाद के पक्ष में समर्थन मांगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *